Sk News Agency-UPब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराज्यलखनऊ

होली सहित कई पढ़ने वाले त्यौहारों को लेकर मुख्यमंत्री ने की समीक्षा बैठक कानून व्यवस्था दुरुस्त रखने के दिए निर्देश।

इस बैठक में शासन के वरिष्ठ अधिकारी,मंडल, रेंज, जोंन व जिला स्तरीय अधिकारी रहे शामिल।

Sk News Agency- uttar Pradesh

Sk News Agency-सदैव आपके मोबाइल

लखनऊ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी दिनों में पढ़ने वाले त्यौहार जैसे होली, रमजान ,चैत्र नवरात्र ,नवरोज,शव ए बरात और रामनवमी आदि त्योहारों के शांतिपूर्ण आयोजन को लेकर ऑनलाइन समीक्षा बैठक की।इस बैठक में शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा जोंन,रेंज तथा मंडल स्तर और जिला स्तरीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।उन्होंने कहा कि आने वाले त्योहारों के चलते अनेक स्थानों पर शोभा यात्राओं एवं मेलों का आयोजन किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने उल्लास और उमंग के इस विशेष पर्व पर कानून व्यवस्था के दृष्टिगत यह समय संवेदनशील बताया के।हमें विशेष सतर्क रहने की आवश्यकता है । पिछले 6 वर्षों में सभी धर्म संप्रदाय के पर्व त्यौहारों के आयोजन शांत और सौहार्दपूर्ण माहौल में  सम्पन्न हुए हैं। इस क्रम को निरंतर बनाए रखना  है।

मुख्यमंत्री ने दिए यह निम्न सख्त निर्देश

*होली के मौके पर  शरारती तत्व दूसरे संप्रदाय के लोगों को अनावश्यक उत्तेजित करने की कुत्सित कोशिश कर सकते हैं, ऐसे मामलों पर नजर रखें, संवेदनशील क्षेत्रों को चिन्हित करते हुए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। पुलिस बल फुट पेट्रोलिंग जरूर करे। पीआरवी 112 अलर्ट मोड पर  रहें।

*पर्वत त्योहारों में शासन द्वारा सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं, धार्मिक परंपरा और आस्था को सम्मान दें,  अराजकता स्वीकार किसी कीमत पर नहीं की जाएगी, आयोजन कराने वाले आयोजकों को अनुमति देने से पूर्व उनसे शांत और सौहार्द सुनिश्चित करने के संबंध में एक शपथ पत्र ले लिया जाए।

*शोभायात्रा/ जुलूस में ऐसी कोई भी गतिविधि ना हो जो दूसरे संप्रदाय के लोगों को उत्तेजित करे, अश्लील/ फ़ूहड़ गीत बजाने वालों पर तत्काल कार्यवाही की जाए, धार्मिक स्थलों पर रंग ना डाले जाएं।

*पर्व त्योहारों के मौके पर सभी 75 जनपदों में गांव हो या शहर की बिजली पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित की जाए, होलिका दहन के स्थलों पर विशेष सावधानी बरती जानी चाहिए, बिजली के हाईटेंशन लाइन के समीप होलिका दहन ना हो, बिजली के ढीले/लटकते तारों को समय से व्यवस्थित कर लिया जाए।

*पर्व/ त्योहार के मौके पर स्वास्थ्य सहित सभी तरह की आपातकालीन सेवाओं को अलर्ट मोड़ पर रखा जाए,सभी एंबुलेंस गाड़ियां अलर्ट मोड़ पर रहे,मेडिकल कॉलेज  हो या अन्य शासकीय अस्पताल, चिकित्सकों/ पैरामेडिकल स्टाफ की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित सुनिश्चित कराई जाए। अप्रिय स्थिति के समय तत्काल चिकित्सकीय की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए डॉक्टरों /पैरामेडिकल स्टाफ के अवकाश को स्थित कर दिया जाए।

*वाराणसी और मथुरा सहित विभिन्न महत्वपूर्ण नगरों में शुक्रवार ( 3 मार्च) को रंग भरी एकादशी मनाई जाएगी। इसके दृष्टिगत सभी आवश्यक प्रबंध पहले से सुनिश्चित कर लिए जाएं आमजन की सुविधा और सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए।

*छोटी सी अफवाह माहौल को बिगाड सकती है, ऐसे में पुलिस प्रशासन को अलर्ट मोड पर रहना होगा, गौवंश की तस्करी और अन्य संबंधित अपराध से जुड़े संदिग्ध लोगों पर कड़ी नजर रखी जाए।

*सभी अधिकारी अपने-अपने सरकारी / प्राइवेट नंबर खुले रखें, किसी भी अप्रिय घटना होने पर तत्काल एक्शन होना चाहिए।

*जहरीली शराब का निर्माण और बिक्री कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी,इसे लेकर सभी जनपदों को विशेष सावधानी रखनी होगी, अवैध शराब की सूचना उच्चाधिकारियों को प्राप्त होती है तो संबंधित के खिलाफ तत्काल  कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button