कासगंजब्रेकिंग न्यूज़

शहीद की अर्थी को एडीजी ने दिया कंधा |

कासगंज

कल शाम सिढपुरा  थाने से  दरोगा   अशोक कुमार व सिपाही देवेंद्र सिंह गांव नगला धीमर में  शराब माफिया के घर नोटिस चस्पा करने गए थे | उसी दौरान  डेढ़ घंटे बाद  किसी ग्रामीण के द्वारा  थाने को सूचना मिली कि  गांव के बाहर एक आदमी  लहूलुहान अवस्था में पड़ा है|   थाने की पुलिस कर्मियों ने जाकर देखा तो   दरोगा अशोक कुमार  लहूलुहान अवस्था में मिले| जिनके शरीर पर वर्दी भी  फटी हुई थी | कुछ देर ढूंढने के बाद  सिपाही  देवेंद्र सिंह  को  भी लहूलुहान  अवस्था में ढूंढ लिया|  जिनके सर में काफी चोट थी|   ग्रामीणों की सूचना पर   पहुंची  पुलिस ने  दोनों पुलिसकर्मियों को जिला अस्पताल भिजवाया | जिसमें जिला अस्पताल में सिपाही देवेंद्र सिंह ने दम तोड़ दिया| और दरोगा  अशोक कुमार को  इलाज हेतु अलीगढ़ रेफर कर दिया गया|  जिसमें  जिसमें दरोगा का इलाज अलीगढ़ में चल रहा है | बताते हैं कि  शराब माफिया  मोती धीमर  पुलिस की पकड़ से अभी दूर है| और उसका भाई एलकार सिंह पुलिस मुठभेड़ में   सुबह मारा गया|  आज दोपहर में  सिपाही देवेंद्र सिंह को पुलिस लाइन में सलामी दी गई|  आगरा से पहुंचे एडीजी  अजय आनंद  एवं आईजी  अलीगढ़ पीयूष मोडया   तथा जिला अधिकारी चंद्रप्रकाश सिंह व पुलिस अधीक्षक  मनोज कुमार सोनकर  ने शहीद की अर्थी को कंधा भी दिया|  कंधा देते समय सभी की आंखों में आंसू छलक रहे थे|  जिला अधिकारी चंद्रप्रकाश समेत पुलिस ब प्रशासनिक अमला  के साथ कई जनप्रतिनिधि उपस्थित थे | सलामी गारद के बाद  पुलिस लाइन से परिजन अर्थी को अपने  निवास स्थान आगरा को ले गए |

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button