आगराइटावाएटाकासगंजखेलदेशधर्मब्रेकिंग न्यूज़मनोरंजनमैनपुरीराजनीतिराज्य

वॉट्सऐप के नए नियम से नाराज यूजर्स अब छोड़ रहे हैं वॉट्सऐप का साथ, टेलीग्राम और सिग्नल ऐप कर रहे डाउनलोड

  • वॉट्सऐप के विकल्प टेलीग्राम और सिग्नल को यूजर्स पसंद कर रहे हैं।
  • एलन मस्क ने नए यूजर्स को सिग्नल से जुड़ने की अपील की है।
  • फेसबुक की स्वामित्व वाली कंपनी वॉट्सऐप ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव करने का फैसला किया है। वॉट्सऐप के नए नियम और शर्तों के चलते यूजर्स अब वॉट्सऐप ऐप को छोडने का मन बना रहे हैं। यूजर्स में नाराजगी है और वे अब वॉट्सऐप के विकल्प को तलाशने में लग गए हैं। यही वजह है कि वॉट्सऐप के विकल्प टेलीग्राम और सिग्नल को यूजर्स पसंद कर रहे हैं। इन दिनों इन मैसेजिंग ऐप पर लगातार यूजर्स की संख्या में बढ़ोतरी देखी गई है। अब वे सिग्नल और टेलीग्राम जैसे ऐप्स को डाउनलोड कर रहे हैं।

    टेलीग्राम के फाउंडर ने कहा यूजर्स का करें सम्मान

    इस बीच, शनिवार को टेलीग्राम के फाउंडर और सीईओ पावेल डुरोव ने सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक को फटकार लगाई। उन्होंने अपने ब्लॉग में कहा है कि यह कोई आश्चर्य नहीं है कि कई सालों से चल रहे टेलीग्राम पर वॉट्सऐप के यूजर्स में तेजी देखी गई है।

    डुरोव ने कहा, फेसबुक की पूरी टीम इस तलाश में जुटीं हैं कि आखिरकार टेलीग्राम पर यूजर्स की संख्या कैसे बढ़ती जा रही है? साथ ही उन्होंने कहा- यूजर्स का सम्मान करना चाहिए।

    टेलीग्राम पर लगभग 500 मिलियन यूजर्स का बढ़ना फेसबुक के लिए एक बड़ी समस्या बन गई है। सिर्फ टेलीग्राम ही नहीं मैसेजिंग ऐप सिग्नल पर भी लगातार यूजर्स की संख्या में इजाफा हुआ है।

    सिग्नल ऐप का सर्वर हुआ ओवरलोड

    हाल ही में टेस्ला के फाउंडर और दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क ने मैसेजिंग ऐप सिग्नल यूज करने की अपील की, जिसके बाद से सिगनल पर यूजर्स लगातार बढ रहे हैं। इसके बाद सिग्नल ऐप को एकसाथ इतने वेरिफिकेशन कोड्स भेजने पड़े कि उसका सर्वर ओवरलोड हो गया।

    सिग्नल ऐप ने कहा कि ढेर सारे नए यूजर्स के प्लेटफॉर्म पर आने की वजह से उन तक वेरिफिकेशन कोड पहुंचने में वक्त लग रहा था। इस ग्लिच को अब ठीक कर दिया गया है और नए यूजर्स बिना किसी दिक्कत के अपना अकाउंट बना सकते हैं।

  • बता दें कि सिग्नल ने दिसंबर 2020 में अपने लेटेस्ट वर्जन्स के साथ ग्रुप कॉल लॉन्च किया है और एन्क्रिप्टेड दिया है। सिग्नल पर्सनल डेटा के तौर पर सिर्फ आपका फोन नंबर स्टोर करता है और ऐप इसे आपकी पहचान से जोड़ने की कोई कोशिश नहीं करता है। जबकि टेलीग्राम आपसे पर्सनल इनफॉर्मेशन के तौर पर कॉन्टैक्ट इंफो, कॉन्टैक्ट्स और यूजर ID मांगता है।

    इस बीच, शनिवार को पेटीएम के मालिक विजय शेखर शर्मा ने भी ट्वीट करके बताया कि उन्होंने भी सिग्नल ऐप को डाउनलोड कर लिया है।

admin

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button