उत्तरप्रदेशउत्तराखंडब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिलखनऊ

विधानसभा सत्र के तीसरे दिन सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजम खान और सोनू यादव के मुद्दे को उठाया।

बोले अखिलेश मुझे डर है कि कहीं आजम खान की यूनिवर्सिटी से बम में या एके-47 बरामद ना हो जाए।

लखनऊ

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विधानमंडल सत्र के तीसरे दिन आज योगी सरकार पर हमलावर रहे। उन्होंने विधानसभा में मोहम्मद आजम खां एवं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या को काला झंडा दिखाने वाले सोनू यादव के मुद्दे को जोर-शोर से उठाया।विधानसभा सत्र के तीसरे दिन सत्र की कार्यवाही शुरू होते ही सपा सदस्यों ने विधान सभा अध्यक्ष के सामने आजम खां के ऊपर लगे फर्जी मुकदमों को निरस्त करने की मांग की।अखिलेश यादव ने विधानसभा में बोलते हुए कहा कि सरकार आजम खां को घेरने की कोशिश कर रही है। और उनकी यूनिवर्सिटी में कई दिन से सर्च अभियान जारी है। मुझे डर है कि कहीं इस यूनिवर्सिटी में बम और एके-47 ना बरामद कर ली जाए।उन्होंने कहा कि आजम खां पर फर्जी मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से कहा कि कहीं ऐसा ना हो जाए कि आजम खां साहब के यहां  झूठी चीजें रख दी जाए और अभियोग पंजीकृत कर लिया जाए।मोहनगंज बाजार में जाते समय स्थानीय निवासी सोनू यादव के द्वारा उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या को विरोध स्वरूप काले झंडे दिखाए जाने पर उप मुख्यमंत्री द्वारा गिरफ्तार कर जेल भिजवाये जाने कि मुद्दे को भी जोर शोर से उठाया।जिसमें सोनू यादव के घर से पुलिस के द्वारा 5 बम बरामद होना भी बताया गया था।

 बताते चलें कि विधानसभा में मुख्यमंत्री की भाषा शैली को जनता जनार्दन कतई पसंद नहीं कर रही है। जनता जनार्दन में चर्चा चल रही है कि ऐसी भाषा शैली तो अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री कार्यकाल में उनकी भी नहीं रही। जबकि भाजपा वाले नित्य नए-नए प्रदर्शन रोज करते थे।उनकी भाषा शैली हमेशा सालीन  और मीठी भाषा  रही है। इस युवा मुख्यमंत्री ने विपक्ष की आवाज को कुचलने का कभी प्रयास नहीं किया था। 

 Sk news agency.com

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button