Sk News Agency-UPग़ाज़ीपुरब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराज्यविशेष

यूपी की इस लोकसभा सीट पर अब होगा उपचुनाव? जानिए क्यों होगा उपचुनाव।

अफजाल अंसारी को एमपी- एमएलए कोर्ट से हो चुकी है 4 साल की कैद।

Sk News Agency-Up

जनपद- गाजीपुर

उत्तर प्रदेश में रामपुर मैं लोकसभा उपचुनाव के बाद अब गाजीपुर लोकसभा सीट पर चुनाव आयोग कराएगा उपचुनाव।आपको बताते चलें कि गाजीपुर से बहुजन समाज पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी को एमपी एमएलए कोर्ट द्वारा गैंगस्टर मामले में 4 साल कैद की सजा सुनाई गई है। इससे प्रदेश में यह लोकसभा सीट गाजीपुर खाली हो सकती है ।और उस पर भी उपचुनाव कराए जाने के पूर्व आसार हैं।आपको बताते चलें कि 2 साल या उससे अधिक की सजा होने पर सांसद या विधायक स्वयं चली जाती है ।इससे साफ तौर पर कहा जा सकता है कि अफजाल अंसारी की सांसद ही चली जाएगी और वहां पर उपचुनाव कराया जाएगा।बहुजन समाज पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी को गैंगस्टर के एक मामले में दोषी करार दिया जा चुका है उनको 4 साल की सजा मिली है इस वजह से उनकी सांसदी जाना तय है।आपको बता दें कि गाजीपुर क्षेत्र से अफजाल अंसारी 2004 लोकसभा का चुनाव समाजवादी पार्टी से और 2019 का लोकसभा चुनाव बहुजन  समाज पार्टी के प्रत्याशी के रूप में जीत चुके हैं।और उन्होंने दोनों बार पूर्वांचल के गांधी कहे जाने वाले  भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता मनोज सिन्हा को हराया है।आपको बताते चलें कि इससे पहले 2 विधानसभा जनपद रामपुर की स्वार विधानसभा सीट और जनपद मुजफ्फरनगर की खतौली विधानसभा सीटऔर एक लोक सभा रामपुर पर भी सांसद और विधायकों को एमपी- एमएलए कोर्ट से मिली सजा के वजह से उपचुनाव कराए जा चुके हैं।हाल ही में केरल की वायनाड लोकसभा सीट से सांसद राहुल गांधी की लोकसभा सदस्यता भी रद्द की जा चुकी है। और उसके बाद अफजल अंसारी का बड़ा मामला सामने आया है।

उत्तर प्रदेश में इनकी जा चुकी है सांसदी 

रामपुर लोकसभा सीट से सांसद आजम खान को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराए जाने पर उनकी सांसद ही चली गई। और वहां पर उपचुनाव कराया गया।

कांग्रेस से राज्यसभा सांसद रहे काजी रशीद मसूद को भी कोर्ट द्वारा दोषी ठहराए जाने पर उनकी सांसदी चली गई ।और राज्यसभा सीट पर दोबारा उपचुनाव कराया गया।

फैजाबाद से सांसद रहे मित्रसेन यादव को भी कोर्ट द्वारा दोषी ठहराए जाने पर उनकी सांसद ही चली गई थी और वहां भी उपचुनाव कराया गया था।

उत्तर प्रदेश में इनकी जा चुकी है विधायकी

जनपद  रामपुर की स्वार विधानसभा सीट से अब्दुल्लाह आजम को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराया गया और उनकी विदाई की रद्द कर दी गई। और वहां पर उपचुनाव कराया गया।

मुजफ्फरनगर की खतौली विधानसभा सीट से विधायक रहे विक्रम सैनी को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराया गया और उनकी विधायक ही रद्द कर दी गई ।और वहां पर उपचुनाव कराया गया।

हमीरपुर से विधायक अशोक सिंह चंदेल को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराया गया और उनकी विधायकी की चली गई और वहां पर उपचुनाव कराया गया।

उन्नाव में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराया गया और उम्र कैद की सजा सुनाई गई और उनकी विधायकी रद्द कर दी गई। और वहां पर उपचुनाव कराया गया।

जनपद अयोध्या की गोसाईगंज से विधायक इंद्र प्रताप तिवारी को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराया गया। और उनकी विदाई की हद कर दी गई वहां पर उपचुनाव कराया गया।

उत्तर प्रदेश में गाजीपुर लोकसभा क्षेत्र के सांसद अफजाल अंसारी दूसरे लोकसभा सांसद होंगे जिनकी सदस्यता कोर्ट द्वारा रद्द कर दी गई। और वहां पर उपचुनाव कराया जाएगा।

आपको बताते चलें कि अफजाल अंसारी  दो बार लोकसभा सांसद और 6 बार विधायक रह चुके हैं।

[democracy id="1"]

Related Articles

Back to top button