उत्तरप्रदेशब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिलखनऊ

मुख्यमंत्री के बाद उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी विधानसभा चुनाव लड़ने का किया ऐलान।

कौशांबी या प्रयागराज की किसी भी सीट से लड़ सकते हैं चुनाव।

लखनऊ

कुछ दिनों पूर्व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया। उसके बाद आज उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया। मगर किस विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे सीट का नाम नहीं खोला हैप्रसाद मौर्य ने कहा कि वह जनता का विश्वास जीतने के लिए विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। कयास लगाए जा रहे हैं कि केशव प्रसाद मौर्य कौशांबी या प्रयागराज की किसी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। क्योंकि कौशांबी उनका गृह जनपद है और प्रयागराज उनकी कर्मभूमि।बताते चलें कि केशव प्रसाद मौर्य 2014 का लोकसभा चुनाव प्रयागराज की फूलपुर लोकसभा सीट से जीत चुके हैं। इनको 2016 में भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया। उन्हीं के नेतृत्व में भाजपा ने विधानसभा 2017 का चुनाव लड़ा और 312 सीटें जीतकर कीर्तिमान स्थापित कर दिया था।मगर जब मुख्यमंत्री बनने का समय आया तो मुख्यमंत्री बनाया गया गोरखपुर लोकसभा सीट के सांसद योगी आदित्यनाथ को और इनको तथा लखनऊ के मेयर रहे  दिनेश शर्मा को उपमुख्यमंत्री बनाया गया था। संयोग की बात यह रही कि मुख्यमंत्री के साथ-साथ दोनों उपमुख्यमंत्री भी उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सदस्य हैं। कयाश तो यह भी लगाए जा रहे हैं, कि भाजपा नेतृत्व उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के साथ साथ  उत्तर-प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को भी किसी विधानसभा सीट से लड़ा सकता है।उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सपा अध्यक्ष के 300 यूनिट बिजली फ्री वाले वादे पर जनता विश्वास नहीं करेगी।2017 का प्रदर्शन दोवारा दोहरायेगी। प्रधानमंत्री के उत्तर प्रदेश के लगातार दौरे से भाजपा में जनता का विश्वास बढ़ा है।

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button