Sk News Agency-UPउत्तरप्रदेशबांदाब्रेकिंग न्यूज़सराहनीय कार्य

मिशन शक्ति:1 दिन की प्रभारी निरीक्षक बनी छात्राओं ने कुर्सी संभाली लिया एक्शन।

थाना चिल्ला और महिला थाने में दो छात्राओं ने 1 दिन सवाला प्रभारी निरीक्षक का चार्ज।

Sk News Agency-uttar Pradesh

जनपद –बांदा 

उत्तर प्रदेश के समस्त जनपदों में मिशन सकता अभियान का आयोजन 1 जून से चलाया जा रहा है।इसी क्रम में कल शनिवार को जनपद  के थाना चिल्ला मैं  एमए की छात्रा रुचि को तो और महिला थाना कोतवाली में इंटरमीडिएट की छात्रा कोमल को 1 दिन का प्रभारी निरीक्षक बनाया गया।1 दिन की प्रभारी निरीक्षक बनी इन दोनों बेटियों ने जनपद के पुलिस अधीक्षक अभिनंदन के सामने ही थाने में आई कई शिकायतों को सुनकर तत्काल निस्तारण के आदेश दिए।थाना चिल्ला में शनिवार को जैसे ही कुमारी रूचि पहुंची तो पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने बुके देकर उनका स्वागत किया। उसके बाद रुचि ने थाना कैंपस का निरीक्षण किया मौजूद स्टाफ को कुछ जरूरी टिप्स भी दिए , शिकायत रजिस्टर को भी चेक किया। और से आई हुई शिकायतों को सुना और उसके बाद उनके निस्तारण भी कराया । कुछ मामलों में थाना क्षेत्र में मौके पर टीम भेजकर निस्तारण के आदेश भी दिए।वही दूसरी छात्रा कोमल जब महिला थाने पहुंची तो वहां पर उनका भव्य स्वागत किया गया। और उसके बाद उन्होंने थाने का निरीक्षण किया ।और निरीक्षण करने के बाद जनता जनार्दन द्वारा आई शिकायतों को सुना ।और उनका निस्तारण भी मौके पर कराया।आपको बता दें कि जनपद बांदा में मिशन सकता अभियान 1 जून से प्रारंभ किया गया है और यह कल 26 जून तक चलाया जाएगा।

महिलाओं एवं छात्राओं को पुलिस अधीक्षक अभिनंदन बताईं उनके काम आने वाली जरूरी बातें 

पुलिस अधीक्षक अभिनंदन सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बच्चियों एवं महिलाओं को विस्तार से समझाया। उन्होंने समझाते हुए कहा कि सरकार एवं जिला पुलिस महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराधों को रोकने के लिए जिले में बड़े व्यापक रूप से मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है।और हमारी पुलिस प्रतिदिन किसी न किसी लोगों के चौपालों पर कैंप लगाकर जागरूक कर रहे हैं और इसी क्रम में हमारे द्वारा कल शनिवार को थाना चिल्ला और महिला थाने में बेटियों को प्रभारी निरीक्षक बनाया गया।पुलिस अधीक्षक ने कैंप में मौजूद महिलाओं और छात्राओं को सरकार की उन हेल्पलाइन नंबरों की जानकारी दी जिससे वह अपनी समस्याओं का त्वरित निस्तारण करा सकती हैं। उनके नाम को गोपनीय रखा जाएगा।उन्होंने कहा के मुख्यमंत्री हेल्पलाइन का नंबर 1076 है और महिला हेल्पलाइन का नंबर 1090 है। नंबरों के माध्यम से कोई भी महिला एवं बच्ची शिकायत कल समस्या से निजात पा सकती है।पुलिस अधीक्षक ने कहा कि महिलाओं को अब डरने की जरूरत नहीं है अब डटकर मुकाबला करने की जरूरत है। जनपदीय पुलिस 24 घंटे आपकी सेवा में तत्पर है।

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button