ब्रेकिंग न्यूज़मध्य प्रदेशराजनीतिराज्य

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री प्रदेश की राजधानी भोपाल का नाम बदलने के लिए भेजेंगे प्रस्ताव।

जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने भोपाल का नाम बदलकर भोजपाल करने की मांग की है।

एसके न्यूज़ -मध्य प्रदेश

Sk News Agency – सदैव आपके मोबाइल पर

भोपाल

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी पत्नी साधना सिंह चौहान के साथ जगद्गुरु रामभद्राचार्य महाराज  की कथा सुनने पहुंचे थे।वही पर यह मांग की गई कि राजधानी भोपाल का नाम बदलकर भोज पाल किया जाए। वैसे यह मांग बहुत पुरानी है तो शिवराज सिंह चौहान ने भी इस संबंध में बड़ा बयान दिया।और बोले कि भोपाल का नाम बदलने का प्रस्ताव भेजा जाएगा। और मैं केंद्र सरकार को एक पत्र भी लिखूंगा,  क्योंकि यह काम मेंअकेला नहीं कर सकता ।सुनने में तो यहां तक आया है ,कि शिवराज सिंह चौहान इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साथ गृह मंत्री अमित शाह को भी पत्र लिखेंगे।अगर यहां से सहमति मिलती है तू फिर राजधानी भोपाल का नाम बदलने की प्रक्रिया आगे बढ़ेगी ।क्योंकि इसमें एक लंबी प्रक्रिया होती है।इस संबंध में रामभद्राचार्य ने भी अपना बयान दिया है— उन्होंने कहा है कि भोपाल का नाम भोज पाल होकर रहेगा आप लोग चिंता कतई ना करें।आपको बताते चलें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बयान कथा सुन रहे श्रद्धालुओं की डिमांड पर दिया है। ऐसे में लगता है कि एक बार फिर भोपाल का नाम बदलने की प्रक्रिया शुरू होने वाली है।आपको बताते चलें कि भोपाल का नाम बदलने की मांग बहुत पुरानी है। लेकिन इस मुद्दे पर चर्चा रामभद्राचार्य जी महाराज के बयान के बाद शुरू हुई है। रामभद्राचार्य जी महाराज ने कहा था कि जब तक भोपाल का नाम भोज पाल  नहीं हो जाता है वह तब तक भोपाल नहीं आएंगे। जिसके के बाद से यह मामला चर्चा का विषय बना हुआ है।

 

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button