उत्तरप्रदेशउत्तराखंडब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

बलवंत हत्याकांड: परिजनों से मिले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव।

पत्नी को सरकारी नौकरी और एक करोड़ मुआवजे की सरकार से की मांग।

जनपद कानपुर देहात

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को कानपुर देहात के व्यापारी बलवंत सिंह के परिजनों से मुलाकात करने उनके घर पहुंचे। और परिजनों को सांत्वना देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार के इस तानाशाही रवैया के खिलाफ समाजवादी पार्टी डटकर मुकाबला करेगी। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार से रिटायर जज से मामले की जांच कराने की मांग की।उन्होंने बलवंत सिंह के परिवार को 5 लाख रुपैया समाजवादी पार्टी की ओर से देने की बात कही है। उनके द्वारा सरकार से व्यापारी बलवंत सिंह की पत्नी को सरकारी नौकरी और एक करोड रुपए मुआवजे की भी मांग की गई है।आपको बता दें चलेंगे बलवंत सिंह की पत्नी शालनी पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मदद की गुहार लगाई थी इसके लिए उन्होंने बाकायदा समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष को पत्र भेजकर बड़ा भाई बताते हुए एक बहन की मदद करने की बात लिखी थी। जिसमें शिवली के लालपुर सरैंया निवासी बलवंत सिंह की पुलिस पिटाई से मौत हो गई थी और पत्र में शालिनी ने लिखा था कि मैं बलवंत की पत्नी शालनी आपसे हाथ जोड़कर निवेदन करती हूं कि मेरे पति को पुलिस हिरासत में मार दिया गया अब आपको मुझे इंसाफ दिलाने के लिए मेरे घर आना होगा मेरे पति की मौत के मामले मुझे न्याय दिलाने के लिए मेरे साथ खड़े हों।

यह था मामला और इस मामले में आये थे अखिलेश यादव

जनपद कानपुर के शिवली के मैथा क्षेत्र में सर्राफा व खाद व्यापारी चंद्रभान सिंह को बाइक सवार बदमाशों ने 6 दिसंबर को लूट लिया था। इस बारदात का खुलासा करने के लिए एसओजी व शिवली थाना पुलिस ने संदेह के आधार पर 5 लोगों को हिरासत में लिया था। इसमें चंद्रभान का भतीजा व व्यापारी बलवंत सिंह भी शामिल था। रानियां थाने में पूछताछ के दौरान पुलिस वालों ने बेरहमी से बलवंत सिंह को पीटा था, इससे उसकी जान चली गई थी। मामले में पुलिस अधीक्षक सुनीत ने 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था। बलवंत सिंह हत्याकांड में तत्कालीन एसओजी प्रभारी निलंबित दरोगा प्रशांत गौतम हेड कांस्टेबल दुर्गेश कुमार और कांस्टेबल सोनी यादव को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। अभी इस मामले में चार पुलिसकर्मी फरार हैं ।बलवंत प्रकरण की जांच कन्नौज के एसपी के नेतृत्व में गठित एसआईटी की टीम कर रही है।शालिनी ने पूर्व मुख्यमंत्री को भैया चार मांगों का एक पत्र।

मृतक बलवंत सिंह की पत्नी शालनी ने 4 सूत्री मांग पत्र दिया जिसमें उन्होंने सरकारी नौकरी आरोपियों को सजा एवं एक करोड़ रुपए की मुआवजा राशि एवं सीबीआई जांच की मांग की है।इस दौरान विधायक अमिताभ बाजपेई ,पूर्व सांसद राजाराम पाल, पूर्व एमएलसी कल्लू यादव, पूर्व जिला अध्यक्ष वीरसेन यादव, जिला पंचायत सदस्य गुड्डू सिंह, कमलेश दिवाकर, नीरज सिंह गौर एवं वर्तमान जिला अध्यक्ष प्रमोद यादव सहित सैकड़ों कार्यकर्ता एवं नेता मौजूद रहे।

छावनी में तब्दील हुआ  पूरा गांव

पूर्व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आने से पहले लालपुर सरैया गांव छावनी में तब्दील कर दिया गया था सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस अधीक्षक घनश्याम चौरसिया की देखरेख में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया था मुख्य गली पर बैरिकेड भी लगाया गया। इस दौरान एडीएम प्रशासन केशब नाथ, एडीएम वित्त एवं राजस्व जेपी गुप्ता, एसडीएम मैथा महेंद्र कुमार ,एसडीएम डेरापुर सहित दर्जनों अधिकारी तैनात रहे।शिवली से लालपुर सरैया तक अखिलेश यादव की फ्लीट निकलने के स्थानों पर पुलिस मुस्तैद रही। भारी वाहनों को पहले से ही रोक दिया गया था।

रिपोर्ट न्यूज़ एजेंसी संवाद सूत्र

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button