Sk News Agency-UPउत्तरप्रदेशब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिरामपुरलखनऊ

पूर्व सांसद जयाप्रदा ने की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाक़ात,सियासी हलचल शुरू।

होने जा रहे उपचुनाव में टिकट मिलने की चर्चाओं का वाजार गर्म।

Sk News Agency uttar Pradesh

sk news agency सदैव आपके मोबाइल पर

राजधानी 

उत्तर प्रदेश की सियासी हलचल इन दिनों देश में छाई हुई है ।पहले उत्तर प्रदेश का आम बजट 2023,  उमेश पाल हत्याकांड , विधानसभा  में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तीखी बयानबाजी और अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और जयाप्रदा की मुलाकात।आपको बताते चलें कि उत्तर प्रदेश में 2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं। जिसको लेकर सभी पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।इन दोनों सीटों के लिए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और विपक्ष की मुख्य पार्टी समाजवादी पार्टी ने अपने-अपने प्रत्याशियों को उतारने के लिए पूरी तैयारियां कर ली है। इसी बीच फिल्म अभिनेत्री और भाजपा नेता जयाप्रदा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करते हुए राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय शुरू  करा दिया है।उन्होंने न केवल मुख्यमंत्री से मुलाकात की उन्होंने प्रदेश के उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक सेवी शिष्टाचार मुलाकात की है।जयाप्रदा ने सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पर मुलाकात की। दोनों की बीच करीब एक घंटे तक बातचीत का  दौर जारी रहा। इस मुलाकात को जयाप्रदा ने शिष्टाचार भेंट बताया है। लेकिन इस उपचुनाव के माहौल में इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं। लेकिन इस उपचुनावी माहौल में ऐसी मुलाकात के मायने  तो चुनावी रणनीति को ही दर्शाते हैं।  मुलाकात के बाद  राजनीतिक हलचल तेज हो गई है।और राजनीतिक जानकार कहते हैं कि जयाप्रदा किसी एक उपचुनाव में उम्मीदवार हो सकती हैं।राजनैतिक गलियारों में चर्चा है कि जयाप्रदा को रामपुर जिला की स्वार विधानसभा सीट से उपचुनाव में प्रत्यासी बनाया जा सकता है।आपको बताते चलें कि इस सीट पर आम चुनाव में आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम विधायक चुने गए थे। जिसमें अब्दुल्ला आजम की सदस्यता रद्द होने के बाद यह यहां उपचुनाव होना है। ज्ञात रहे कि 15 साल पुराने केस में 2 साल की सजा होने के बाद उनकी  विधानसभा की सदस्यता रद्द कर दी गई है ।अब यहां जल्द ही उपचुनाव कराए जाने हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि जयाप्रदा मौका मिल सकता है। 

इन 4 सीटों पर पर होना है उपचुनाव,और जयाप्रदा को मिल सकता है मौका।

आपको बताते चलें कि उत्तर प्रदेश में 2 विधानसभा और दो विधान परिषद सीटों पर उपचुनाव होना प्रस्तावित है।जिसमें लक्ष्मण आचार्य के इस्तीफे देने से और बीएन  दोहरे के निधन के बाद विधान परिषद की सीटों पर होगा उपचुनाव।इसी तरह जनपद रामपुर की स्वार विधानसभा सीट पर अब्दुल्लाह आजम की संस्था रद्द होने की वजह से और जनपद मिर्जापुर की छानबे विधानसभा के विधायक राहुल प्रकाश कोल के निधन की वजह से यहां उपचुनाव होना है।

 

 

 

 

 

 

 

 

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button