विशेष
Trending

पीएम का मैसूर कर्नाटक दौरा :

SKNEWSAGENCY :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडू के मुदुमलाई टाइगर रिजर्व का दौरा किया। इस दौरान पीएम मोदी ने थेप्पाकडू हाथी शिविर में हाथियों को गन्ना खिलाया। पीएम मोदी ने हाथी शिविर में महावतों और कावड़ियों से भी बातचीत की। इस दौरान पोशाकों के शौकीन पीएम मोदी खाकी पैंट, कैमोफ्लाज़ टीशर्ट और एडवेंचर गाॅइलेट


स्लीवलेस जैकेट के साथ एक अलग अंदाज में नज़र आए। इससे पहले पीएम मोदी ने कर्नाटक में बांदीपुर टाइगर रिजर्व का दौरा किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक के बांदीपुर टाइगर रिजर्व में 20 किमी की जीप सफारी का आनंद लिया।


यहां उन्होंने फ्रंटलाइन फील्ड स्टाफ और स्वयं सहायता समूहों से बातचीत की। पीएम मोदी ने अपने बांदीपुर टाइगर रिजर्व दौरे की तस्वीरें भी ट्विटर पर शेयर कीं। तस्वीरों के साथ पीएम ने लिखा ” सुबह का सुंदर समर बांदीपुर टाइगर रिजर्व में बिताया और भारत के वन्य जीवन, प्राकृतिक सुंदरता और विविधता की झलक देखी।

 

पीएम मोदी ने किया आईबीसीए का उद्घाटन

पीएम मोदी का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वे हाथियों को खाना खिलाते नज़र आ रहे हैं। इस दौरान उन्होंने बाघ अभ्यारण्यों के क्षेत्र निदेशकों के साथ भी बात करते दिखाई दिए। इन अभयारण्यों ने हाल ही में संपन्न हुए प्रबंधन प्रभावशीलता मूल्यांकन अभ्यास के 5वें चक्र में सबसे ज़्यादा स्कोर किया है। पीएम मोदी ने रविवार को अंतरराष्ट्रीय बिग कैट्स एलायंस (आईबीसीए) का उद्घाटन किया। साथ ही उन्होंने “प्रोजेक्ट टाइगर” के 50 साल पूरे होने पर बाघों की संख्या के आंकड़े भी जारी किए।

प्रोजेक्ट टाइगर के 50 साल, जारी किया स्मारक सिक्का

यहां बता दें कि आईबीसीए दुनिया की सात सबसे बड़ी बिल्लियों जिनमें बाघ, शेर, तेंदुआ,प्यूमा, जैगुआर, हिम तेंदुआ और चीता के संरक्षण पर ध्यान आकर्षित करेगा।
इस दौरान पीएम मोदी “अमृत काल कख विजन फाॅर टाइगर कंजर्वेशन” प्रकाशनों का विमोचन करते हुए टाइगर रिजर्व के प्रबंधन प्रभावी मूल्यांकन के 5वें चक्र की सारांश रिपोर्ट भी घोषित की।
प्रोजेक्ट टाइगर के 50 साल पूरे होने के मौके पर बाघों की संख्या घोषित करने के साथ ही एक स्मारक सिक्का भी जारी किया।

कुलदीप मिश्र
राज्य ब्यूरो प्रमुख
उत्तर प्रदेश

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button