Sk News Agency-UPचित्रकूटजनसमस्याब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

डीएम एसपी की छापामार कार्रवाई में विधायक अब्बास अंसारी की पत्नी हुई अरेस्ट। 7 पर गिरी गाज।।

जेल में रोज3-4 घंटे बिताती थीं विधायक की पत्नी ।

Sk News Agency-uttar Pradesh

जनपद-चित्रकूट

चित्रकूट कारागार मैं बंद सपा विधायक अब्बास अंसारी की पत्नी निकहत अंसारी को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया गया। आपको बताते चलें कि विधायक अब्बास अंसारी की पत्नी निकहत अंसारी अपने पद से मिलने चित्रकूट की जिला जेल रंगौली पहुंची थी। जिसकी सूचना मुखबिर द्वारा पुलिस चौकी रंगोली के प्रभारी को दी गई। उन्होंने तत्काल सूचना उच्चाधिकारियों को दी।आनन-फानन में जनपद के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने जिला जेल पहुंचकर छापामार कार्रवाई की।तो जिला जेल के एक कमरे में जिसमें विधायक अंसारी ने अपना बैडरूम बना लिया था। उसी में उनकी पत्नी निकहत अंसारी मौजूद मिली और उसी समय उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। और जिस कमरे को बेडरूम बनाया गया था। उस कमरे में कमरे में बड़े पैमाने पर आपत्तिजनक सामग्री भी मिली है।आपको बताते चलें कि पूर्वांचल के माफिया बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे विधायक अब्बास अंसारी को मनी लांड्रिंग के मामले में ईडी ने गिरफ्तार किया था। अब्बास अंसारी को बीते 18 नवंबर 2022 को प्रयागराज की सेंटर जेल से अब्बास अंसारी को हाई सिक्योरिटी जेल चित्रकूट की रंगोली जेल भेजा गया था। जिसके बाद से अब्बास अंसारी चित्रकूट जेल में बंद थे।बताया यहां तक जा रहा है कि निकहत की जेल में आने के बाद जेलर के बगल वाले कमरे में पति  अंसारी के साथ एकांत में तीन चार घंटे रोज बताती थी। विधायक अंसारी पत्नी के मोबाइल फोन से मुकदमे से जुड़ें गवाहों और अभियोजन से जुड़े अधिकारियों को धमकाया जाता था। इस बात का खुलासा हिरासत में लेकर पूछताछ किए जाने पर एक जेल कर्मी ने ही किया है। इस बात का जिक्र  दर्ज किए गए एफआईआर में भी स्पष्ट तौर पर है।जेल कर्मी ने पुलिस को यह भी बताया है कि जो भी लोग अब्बास अंसारी की बात मानने को तैयार नहीं थे उनकी हत्या की योजना भी बनाई जा रही थी।

बिना किसी रोक-टोक व बिना पर्ची के होती थी मुलाकात।

एफआईआर के अनुसार  अब्बास अंसारी के पत्नी को पद से मुलाकात करने के लिए  किसी पर्ची की कोई जरूरत नहीं  रहती थी। जबकि  अब्बास के खिलाफ अनेक गंभीर मामले कोर्ट में विचाराधीन हैं।

इस पूरे प्रकरण में जेल अधीक्षक अशोक सागर और  जेलर संतोष कुमार को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। और साथ ही साथ डिप्टी जेलर पीयूष पांडे और 5 बंदी रक्षकों पर भी निलंबन की कार्रवाई की गई है।जेल अधीक्षक अशोक सागर के खिलाफ विभागीय जांच के लिए शासन को पत्र लिखा गया है। इसके अलावा जेल और डिप्टी जेलर के खिलाफ डीजी जेल आनंद कुमार ने विभागीय जांच के आदेश दिए हैं।

दूसरी जेल में अब्बास अंसारी को ट्रांसफर करने की की गई सिफारिश

डीआईजी जेल प्रयागराज की रिपोर्ट के बाद अब्बास अंसारी को दूसरी जेल में ट्रांसफर करने की भी सिफारिश की गई है । डीआईजी जेल की सिफारिश के बाद अब्बास अंसारी की बदली जाएगी जेल।

नये जेलर और डिप्टी जेलर को भेजा गया चित्रकूट।

डीआई जेल की सिफारिश के बाद उन्नाव जेल से जेलर राजीव कुमार सिंह को चित्रकूट का नया जेलर और देव दर्शन सिंह को चित्रकूट जेल का नया डिप्टी जेलर बनाया गया है।

रिपोर्ट—न्यूज़ एजेंसी नेटवर्क

 

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button