Sk News Agency-UPउत्तरप्रदेशग्रामीण समस्याजनसमस्याब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

चौथे चरण में तेरह सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा की हालत खस्ता।

मौजूदा सांसदों का बड़बोलापन एवं क्षेत्रीय जनता के प्रति उदासीन होना रहा कारण।

Sk News Agency-UP

ब्यूरो डेस्क——————-लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में उत्तर प्रदेश की 13 लोकसभा सीटों पर हुए चुनावमें भारतीय जनता पार्टी हालत बिल्कुल खस्ता रही है।संयोगवश  13 लोक सभा सीटों पर ऐसे सत्तारूढ़  पार्टी के ऐसे मौजूदा सांसद विराजमान हैं। जिन्होंने पिछले बरसों से सरकारकी लगातार किरकिरी कराई है।सोमवार को तेरे लोकसभा सीटों पर चुनाव हुआ है उनमें भारतीय जनता पार्टी को अपना किला बचाना मुश्किल होता दिखाई दे रहा है।उत्तर प्रदेश की जिन लोकसभा सीटों पर चुनाव संपन्न हुआ है उनमें सीतापुर से भारतीय जनता पार्टी के मौजूदा सांसद राजेश कुमार बर्मा चुनाव लड़ रहे हैं और समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी राकेश राठौर उनसे आगे निकलते हुए दिखाई दे रहे हैं।कन्नौज सीट पर भारतीय जनता पार्टी के बेलगाम सांसद सुब्रत पाठक  समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से काफी दूर पिछड़ते दिखाई दे रहे हैं।इटावा में भारतीय जनता पार्टी के जनता जनार्दन एवं पुलिसके लिए सर दर्द बने रहने वाले प्रोफेसर रामशंकर कठेरिया को समाजवादी पार्टी के जितेंद्र दौहरे पटकनी देते हुए दिखाई दे रहे हैं।मिश्रित लोकसभा क्षेत्र  से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी अशोक कुमार रावत को समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी संगीता राजवंशी कड़े मुकाबला में आगे निकलती दिखाई दे रही हैं।अकबरपुर में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी देवेंद्र सिंह ‘भोले’ को समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी राजाराम पाल पटकनी देते हुए दिखाईदे रहे हैं।धौरहरा  लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी एवं मौजूदा सांसद रेखा वर्मा को समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आनंद भदौरिया कड़े मुकाबले में आगे निकलते हुए दिखाई दे रहे हैं ।हरदोई लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी एवं मौजूदा सांसद जयप्रकाश रावत को समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी उषा वर्मा कड़ा मुकाबला करते हुए दिखाई दे रही हैं।उन्नाव लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के विवादास्पद  बयान देने वाले वर्तमान सांसद साक्षी महाराज को समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी अन्नू टंडन अपनी हार का बदला लेते हुए दिखाई दे रही हैं।फर्रुखाबाद लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के मौजूदा सांसद  मुकेश राजपूत समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी डॉ नवल किशोर शाक्य  से  काफी पीछे दिखाई दे रहे हैं।कानपुर लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टीने अपना प्रत्याशी बदलते हुए रमेश अवस्थी को अपना प्रत्याशी बदले बनाया है। वह भी कांग्रेस के प्रत्याशी आलोक मिश्रा से पिछड़ते दिखाई दे रहे हैं। बहराइच लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी ने अपने मौजूदा सांसद अक्षय बरलाल गौड़ के बेटे आनंद गौड को अपना प्रत्याशी बनाया है। वह भी समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी रमेश गौतम से कड़ा मुकाबला करते हुए दिखाई दे रहे हैं।लखीमपुर खीरी में मौजूदा सांसद एवं सरकार की किरकिरी कराने वाले गृह राज्य मंत्री के पद पर रहे अजय मिश्रा (टैनी) को समाजवादी पार्टी के युवा प्रत्याशी उत्कर्ष वर्मा पटकनी देते हुए दिखाई दे रहे हैं।शाहजहांपुर लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के सांसद एवं प्रत्याशी अरुण कुमार सागर को समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी ज्योत्सना गोंड उनसे काफी आगे निकलती दिखाई दे रही हैं।

आपको बताते चलें कि इन प्रत्याशियों ने हर तरीकेसे अपनी पार्टी की किरकिरी कराने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। और जनता जनार्दन के प्रति  भी उदासीन बने रहे हैं। हमारी टीमके द्वारा जब जनता जनार्दनसे बातचीत की गई तो बताया कि मौजूदा सांसद नए क्षेत्रमें कोई विकास कार्यों में रुचि नहीं ली है। और चापलूस चटुकारों  से घिरे रहे हैं। यह सभी प्रत्याशी सिर्फ योगी और मोदी की लहर की वजह से ही संसद तक पहुंचे हैं।लोगों ने कहा कि अब योगी और मोदी का जादू फेल हो चुका है। जनता जनार्दन को कोई किसी भी तरह की राहत नहीं मिली है। न दलाल मिटे हैं ,ना दलाली सिर्फ दलाली का रेट बढ़ गया। और सरकार इन पर रोक लगाने मैं सरकार ना कामयाब साबित हुई है।

खबर-जनता जनार्दन से बातचीत के आधार पर

[democracy id="1"]

Related Articles

Back to top button