ब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिराज्यविशेष

कर्नाटक:सिद्धारमैया बने दूसरी बार मुख्यमंत्री तो प्रदेश अध्यक्ष बने उपमुख्यमंत्री।

राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने आठ मंत्रियों को भी दिलाई शपथ

Sk News Agency–Karnataka

बेंगलुरु (कर्नाटक)

कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत ने आज शनिवार को श्री कांति रवा स्टेडियम मैं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता  सिद्धारमैया को मुख्यमंत्री की दूसरी बार तो प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार को प्रथम बार उप मुख्यमंत्री की  पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के पुत्र प्रियंका खरगे वरिष्ठ नेता एवं पूर्व रेल राज्य मंत्री के एच मुनियप्पा, सतीश जर्किहोली, केजे जॉर्ज ,रामालिंगा रेड्डी और बी जैड जमीर अहमद खान सहित आठ विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई।शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन कई पक्ष विपक्ष के नेताओं के बीच बड़ी धूमधाम के साथ किया गया।  कांग्रेस ने इस समारोह के माध्यम से विपक्षी एकजुटता का संदेश देने का प्रयास किया।पद ग्रहण समारोह में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ,पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी,  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू  के अलावा कई कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के अलावा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार ,तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ,नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्लाह ,बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ,उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता महबूबा मुफ्ती और लेफ्ट पार्टियों की ओर से डी राजा और सीताराम येचुरी  स‌हित कई अन्य विपक्षी नेताओं ने भी इस समारोह में शिरकत की।आपको बताते चलें कि कांग्रेस पार्टी ने इस शपथ समारोह के माध्यम से दक्षिण भारत के सामाजिक समीकरण को साधना का भरपूर प्रयास किया। आपको बताते चलें कि कर्नाटक की 224 सदस्यीय विधानसभा में 10 मई को हुए चुनाव के परिणाम में कांग्रेस पार्टी को 135 सीटें मिली थी और भारतीय जनता पार्टी को 66 सीटें तो पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा के जनता दल (सेक्यूलर) को 19 सीटें हासिल हुई थी।आपको अवगत करा दें कि श्रद्धा रमैया जनता दल सेकुलर के साथ  थे तो वह राज्य के दो बार मुख्यमंत्री भी रह चुके थे। और वर्तमान में वह कर्नाटक विधानसभा में नेता विरोधी दल के पद के दायित्व का निर्वाह कर रहे थे। वह कर्नाटक की 2013 से 2018 तक मुख्यमंत्री रहे थे।राज्य के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आज घोषणा की कि कांग्रेस पार्टी ने जो 5 गारंटी का वादा किया है वह आज ही लागू हो जाएंगी। 5 गारंटीयां निम्न प्रकार से हैं——–+

1. अन्य भाग्य के तहत बीपीएल की परिवार की हर सदस्य को 10 किलो मुफ्त चावल।

2. युवा निधि योजना के तहत बेरोजगार स्नातकों को हर महीने ₹3000 और बेरोजगार डिप्लोमा धारकों को 2 साल के लिए पंद्रह ₹100 की आर्थिक मदद।

3. शक्ति योजना के तहत सार्वजनिक परिवहन बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की सुविधा।

4. गृह ज्योति योजना के तहत 200 यूनिट मुफ्त बिजली।

5. गृह लक्ष्मी योजना के अंतर्गत हर परिवार की महिला मुखिया को ₹2000 मासिक सहायता।

उपस्थित नेताओं की प्रतिक्रियाएं———

1. 2 घंटे में कैबिनेट की पहली बैठक में पांच बातों पर बनेंगे कानून , कर्नाटक के गरीब ,दलित ,आदिवासियों के साथ कांग्रेस–राहुल गांधी

2.आज कर्नाटक के लिए और देश के लिए बड़ा दिन-फारुख अब्दुल्ला

3. कर्नाटक की जीत के साथ ही 2024 में भारतीय जनता पार्टी की सरकार से दिल्ली मुक्त हो जाएगी.रंजीता रंजन कांग्रेस सांसद

4. कर्नाटक की जीत ने सुनिश्चित कर दिया है कि 2024 में कांग्रेस की गठबंधन सरकार बनने जा रही है–भूपेश बघेल

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button