Sk News Agency-UPजनसमस्याबदायुंब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिविशेषसराहनीय कार्य

इंस्पेक्टर की करतूतों के खिलाफ सांसद ने लिखा पुलिस महानिदेशक को पत्र।

गैर कानूनी काम और भ्रष्टाचार में बताया लिप्त।

Sk News Agency-UP

जनपद-बदांयू 04अगस्त 2023

न्यूज एजेंसी संवाद सूत्र–पुलिस की कार्यशैली के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी के सांसद ने प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर अवगत कराया है। कि जनपद के आलापुर थाने के प्रभारी निरीक्षक गैर कानूनी कार्यों में लिप्त रहने के साथ-साथ पार्टी के कार्यकर्ताओं को हर दिन अपमानित करते रहते हैं।आपको बताते चलें कि आंवला लोकसभा क्षेत्र के भारतीय जनता पार्टी से सांसद धर्मेंद्र कश्यप ने 30 अगस्त को प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर इंस्पेक्टर की करगुजारियों से अवगत कराया है।इसमें आरोप लगाया गया है कि आलापुर थाने के इंस्पेक्टर के रहते पार्टी की इच्छा भी धूमिल हो रही है। और इंस्पेक्टर भ्रष्टाचार में लिप्त हैं,और यह इंस्पेक्टर एक पार्टी से रुपए लेकर दूसरी पार्टी पर कार्यवाही करते हैं।उन्होंने पत्र में यह भी आरोप लगाया है कि मेरे द्वारा जब प्रभारी निरीक्षक से बात करने की कोशिश की जाती है तो वह फोन नहीं उठाते हैं और किसी भी पत्र का जवाब देना  तो  अपनी तौहीन ही समझते हैं। इस संबंध में मेरे द्वारा जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से भी शिकायत की गई थी। और उसके बाद फिर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखा गया है।उन्होंने पुलिस महानिदेशक को भेजे पत्र में यह भी लिखा है कि पार्टी के हितों को ध्यान में रखते हुए इस प्रभारी निरीक्षक की उच्च अधिकारी से जांच कराते हुए बदायूं जिले से हटाया जाए ।और  इंस्पेक्टर के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई , उससे अवगत कराया जाए।उन्होंने आगे  पत्र में आगे लिखा है कि दातागंज विधानसभा क्षेत्र मेरे आंवला लोकसभा क्षेत्र में आता है। और  अलापुर इंस्पेक्टर  तमाम गैर कानूनी कार्यों में लिप्त है।इंस्पेक्टर की मेरे से लगातार जनता और कार्यकर्ताओ द्वारा  गंभीर शिकायतें की जा रही है।

जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर ओपी सिंह ने हिंदी मीडिया को बताया के शिकायत मुख्यालय से प्राप्त हो चुकी है। इसकी जांच एसपी सिटी को सौंपी है, जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे। उसके आधार पर रिपोर्ट बनाकर पुलिस महानिदेशक को प्रेषित की जाएगी।

कई थानों में तैनात रहे हैं इंस्पैक्टर हरपाल सिंह बालियान 

भाजपा सांसद ने जिस इंस्पेक्टर की शिकायत पुलिस महानिदेशक की है वह कई थाने में तैनात रह चुके हैं। और आलापुर थाने में 8 महीने पहले ही तैनात होकर आए हैं। सूत्रों के अनुसार इंस्पेक्टर को कई बार सांसद द्वारा समझाने की कोशिश की गई,मगर उनकी आदत में कोई सुधार नहीं हुआ ।तब  संसद को प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखना पड़ा।

अपने कारनामा  से चर्चा में रहे हैं- प्रभारी निरीक्षक

1. इंस्पेक्टर हरपाल सिंह बालियान ने सदर कोतवाली में प्रभारी निरीक्षक रहते हुए मनोज कुमार नामक व्यक्ति पर चूहे को डुबोकर मारने पर मनोज के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज की थी। चूहे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद धारा 429 के तहत एफआईआर दर्ज की गई थी।

2. निरीक्षक हरपाल सिंह  द्वारा 31 जुलाई को वाहन चेकिंग के दौरान लाइनमैन का चालान काटने पर जब लाइनमैन रविंद्र कुमार ने थाने की बिजली काट दी थी। उसके बाद इंस्पेक्टर हरपाल सिंह बालियान द्वारा विद्युत विभाग के बरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत की गई, फिर थाने का कनेक्शन जोड़ा गया था।

यह तो सिर्फ उदाहरण हैं इसके अलावा कई कारनामों से चर्चा में रहे हैं। निरीक्षक हरपाल सिंह बालियान

खबर मीडिया— रिपोर्ट्स के आधार पर

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

आप आने वाले लोकसभा चुनाव में किसको वोट करेंगे?

Related Articles

Back to top button